Writing The Feelings:Latest News Hindi Love Shayari Story

Imaginations-Feelings-Thoughts कल्पना-भावनाएँ-विचार Latest News Love Shayari Romantic Story Urdu Shayari Two Line Shayari Whatsapp Status

21 June 2020

(इस post को केवल एक व्यंग के रूप में ही ले, इसके बाद भी अगर हमसे कोई गलती हुई हो तो हम क्षमा प्रार्थी है)🙏🙏

पंडित जी और सेठ जी की चर्चा।

पंडित जी:- अरे सेठ जी, कुछ सुने हो ईरान के बारे मे।

सेठ जी:- साला बकलोली कर रहा है यार, सुने है कि 28 की उम्र तक कुँवारे रहने पर कानूनी कार्यवाही करेगा वो अपने नागरिकों पर।

पंडित जी:- सुना तो हमने भी यही है कि वहाँ के धर्म गुरु मोहम्मद इदरीसी ने संसद में प्रस्ताव रखा है।

सेठ जी:- हाँजी और तो और अगर 28 से पहले शादी नहीं कि तो tax भरना पड़ेगा, वो भी शादी के कुल खर्चे के बराबर।

पंडित जी:- अरे भइया फिर इसका मतलब तो हमारे बजरंगी भाई जान की दूसरी शादी का समय आ गया है।

सेठ जी:- पर हुई तो एक भी नही है।

पंडित जी:- धीरे बोलो भईया, "भाई" को जान मानने वाले बहुत लोग है, यहीं पर घमासान हो जाएगा।

सेठ जी:- अरे डरते नही है हम भी, नाही तो में हिरन हूँ, नाही footpath पर सोता हूँ और मेरा ऐश्वर्या राय से कुछ लेना देना है।

पंडित जी:- बात तो सही है आपकी। वैसे यहाँ इस बात पर घमासान हो या ना हो, लेकिन twitter पर ईरान के लोगो मे घमासान चल ही रहा है।

सेठ जी:- इंसान होता ही ऐसा बस बड़ी बड़ी बातें करवा लो बस।

पंडित जी:- हां बात तो सही है। अब ईरान की ही बात है, 2013 में एक bill pass हुआ था वहाँ पर जिसके हिसाब से वहाँ का आदमी अपनी गोद ली हुई बेटी से शादी कर सकता है।

सेठ जी:- इसका मतलब जो कल तक देख-भाल कर रहा था वही अब देख-भाल कर देख रहा है।

पंडित जी:- हां भईया जी, और 2013 में ही लड़की की शादी उम्र 13 वर्ष कर दी गयी थी और लड़के की 15 वर्ष। लड़की को शादी के लिए सिर्फ अपने पिता की आज्ञा ही चाहिए हो है।

सेठ जी:- मतलब बाल विवाह!

पंडित जी:- हां ऐसा भी कह सकते है।

सेठ जी:- सही है अब क्या बोलू मैं भईया हमारे यहाँ भी ये सब हुआ करता था, पर खुशी है अब नही है।

पंडित जी:- हां सही बोला तुमने भी। चलिए अब चलते है।

सेठ जी:- चलो ठीक है।

थोड़ा आगे चल कर सेठ जी मुड़ कर बोलते है की,

सेठ जी:- अरे पंडित जी लड़के की शादी की शादी उम्र 15 साल, इस हिसाब से "भाई" की चौथी होने वाली होती।

पंडित जी:- मेरे को डर है कि कहीं चौथी से पहले चौथा ना हो जाए उनका।

दोनों अपने-अपने घरों की तरफ चले जाते है।


#writingthefeelings 

   Harsh Gaur


                                                    Mradul Agrawal